हाइड्रोजन क्लोराइड एसिड क्या है, हाइड्रोक्लोरिक अम्ल के उपयोग, बनाने की विधि, गुण, फार्मूला

हाइड्रोजन क्लोराइड

यह अम्ल नमक तथा सांद्र सल्फ्यूरिक अम्ल के साथ क्रिया कराने पर प्राप्त होता है। सन 1810 ई० में वैज्ञानिक डेवी ने यह दर्शाया कि HCl, हाइड्रोजन तथा क्लोरीन का यौगिक है। इसलिए इसे हाइड्रोक्लोरिक अम्ल (hydrogen chloride in Hindi) कहते हैं।

हाइड्रोक्लोरिक अम्ल बनाने की विधि

1. प्रयोगशाला विधि

प्रयोगशाला में हाइड्रोजन क्लोराइड को सोडियम क्लोराइड तथा सांद्र सल्फ्यूरिक अम्ल को एक साथ गर्म करके प्राप्त किया जाता है।
\scriptsize \begin{array}{rcl} NaCl \\ सोडियम\,क्लोराइड \end{array} + \scriptsize \begin{array}{rcl} H_2SO_4 \\ सोडियम\,क्लोराइड \end{array} \xrightarrow {∆} NaHSO4 + \scriptsize \begin{array}{rcl} HCl \\ हाइड्रोजन\,क्लोराइड \end{array}
NaHSO4 + NaCl \longrightarrow Na2SO4 + HCl

2. जल तथा क्लोरीन की आपस में क्रिया द्वारा HCl प्राप्त किया जाता है।
2H2O + 2Cl2 \longrightarrow 4HCl + O2

हाइड्रोजन क्लोराइड के भौतिक गुण

  1. हाइड्रोजन क्लोराइड रंगहीन तथा तीक्ष्ण गंध वाली गैस है।
  2. यह जल में विलेय है इसका जलीय विलयन अम्लीय होता है।
  3. सूंघने पर यह नाक, गला व फेफड़ों पर जलन उत्पन्न करती है।
  4. यह वायु से भारी गैस है इसका वाष्प घनत्व 18.25 होता है।

हाइड्रोजन क्लोराइड के रासायनिक गुण

► हाइड्रोजन क्लोराइड अमोनिया के साथ अभिक्रिया करके अमोनियम क्लोराइड बनाती है।
NH3 + HCl \longrightarrow NH4Cl

► HCl उच्च ताप 1500°C पर हाइड्रोजन तथा क्लोरीन में वियोजित हो जाती है।
2HCl \rightleftharpoons H2 + Cl2

► जो धातुएं में विद्युत रासायनिक श्रेणी में हाइड्रोजन से ऊपर हैं वह तनु HCl के साथ क्रिया करके H2 गैस मुक्त करती हैं।
Zn + 2HCl \longrightarrow ZnCl2 + H2
2Na + 2HCl \longrightarrow 2NaCl + H2

► हाइड्रोजन क्लोराइड की धातुओं के ऑक्साइड के साथ क्रिया कराने पर धातुओं के क्लोराइड और जल बनता है।
MgO + 2HCl \longrightarrow MgCl2 + H2O
ZnO + 2HCl \longrightarrow ZnCl2 + H2O

हाइड्रोक्लोरिक अम्ल के उपयोग

  1. हाइड्रोक्लोरिक अम्ल का उपयोग प्रयोगशाला में अभिकर्मक के रूप में होता है।
  2. क्लोरीन, अमोनियम क्लोराइड तथा ग्लूकोस के निर्माण में।
  3. अस्थियों से सरेस के निष्कर्षण में।
  4. इसका उपयोग औषधियों के उत्पादन में भी किया जाता है।

HCl का परीक्षण

  1. HCl का जलीय विलयन सिल्वर नाइट्रेट की विलयन के साथ सिल्वर क्लोराइड AgCl का सफेद अवक्षेप बनाता है। यह नाइट्रिक अम्ल में अघुलनशील है।
  2. हाइड्रोक्लोरिक अम्ल, अमोनिया के साथ अमोनियम क्लोराइड का सफेद धुंआ बनाता है।

शेयर करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published.