उत्क्रमणीय तथा अनुत्क्रमणीय प्रक्रम क्या हैं, उदाहरण, अंतर

उत्क्रमणीय प्रक्रम

वह प्रक्रम जो विपरीत परिस्थितियों में ठीक उसी अवस्थाओं में संपन्न किया जा सकता है जिन अवस्थाओं में सीधे क्रम में संपन्न किया जा सकता है। इस प्रकार के प्रक्रम को उत्क्रमणीय प्रक्रम (reversible process in Hindi) कहते हैं।
सरल भाषा में कहें तो, किसी वस्तु को उष्मा देने पर उससे कार्य प्राप्त होता है यदि हम उस वस्तु पर कार्य करें, तो ऊष्मा उत्पन्न होने चाहिए।
अर्थात् किसी निकाय को Q उष्मा दी जाए तथा उससे W कार्य प्राप्त होता है यदि निकाय पर W कार्य किया जाए तो उससे Q ऊष्मा प्राप्त होनी चाहिए।
अतः यह प्रक्रम सीधी अवस्थाओं में भी वही कार्य करता है जो विपरीत अवस्थाओं में संपन्न करता है।

उत्क्रमणीय प्रक्रम को संपन्न करने की कुछ शर्ते हैं-
(1) क्षयकारी बल अनुपस्थित होने चाहिए।
अर्थात घर्षण बल, श्यानता, अप्रत्यास्थता विद्युत प्रतिरोध आदि पूर्ण रूप से उपस्थित नहीं होने चाहिए। इनकी उपस्थिति के कारण प्रक्रम उत्क्रमणीय नहीं बनता है यह क्षयकारी बल प्रक्रम को अनुत्क्रमणीय बनाते हैं। अतः प्रक्रम के उत्क्रमणीय होने के लिए क्षयकारी बल पूर्ण रूप से अनुपस्थित होने चाहिए।
(2) प्रक्रम बाह्य परिवेश के साथ यांत्रिक, ऊष्मीय साम्य में रहना चाहिए।
उत्क्रमणीय प्रक्रम कि यह शर्तें कभी पूरी नहीं होती हैं अर्थात् उत्क्रमणीय प्रक्रम एक आदर्श प्रक्रम है।

अनुत्क्रमणीय प्रक्रम

वह प्रक्रम जो विपरीत परिस्थितियों में ठीक उसी तरह संपन्न नहीं किया जा सकता है जिस प्रकार सीधी परिस्थितियों में संपन्न किया जा सकता है। इस प्रकार के प्रक्रम को अनुत्क्रमणीय प्रक्रम (irreversible process in Hindi) कहते हैं।

अर्थात किसी निकाय को अगर Q उष्मा दी जाए तथा उससे W कार्य प्राप्त किया जाए तो अगर निकाय द्वारा W कार्य करने पर उससे Q उष्मा प्राप्त नहीं होती है।
अतः यह प्रक्रम जो उत्क्रमणीय नहीं होता है उन्हें अनुत्क्रमणीय प्रक्रम कहते हैं।

पढ़ें… 11वीं भौतिक नोट्स | 11th class physics notes in Hindi

उदाहरण
(1) पानी में चीनी का घूलना। अर्थात् पानी में चीनी घुल जाए तो पानी से चीनी प्राप्त नहीं की जा सकती है। अतः यह एक अनुत्क्रमणीय प्रक्रम है।
(2) लोहे में जंग लगना एक अनुत्क्रमणीय प्रक्रम है।

वह सभी प्रक्रम जिसमें एक बार कोई कार्य करने पर दोबारा वही उत्पन्न नहीं किया जा सके। तो वह सभी प्रक्रम अनुत्क्रमणीय प्रक्रम होते हैं।

शेयर करें…

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *