12th class physics chapter 15 objective questions in hindi | संचार व्यवस्था

संचार व्यवस्था 12th class physics chapter 15 objective questions and answers in हिंदी :-

  1. व्योम तरंगों की आवृत्ति होती है –
    (a) 3 – 30 मेगाहर्ट्ज ✓
    (b) 40 – 300 मेगाहर्ट्ज
    (c) 50 – 500 मेगाहर्ट्ज
    (d) 5 – 100 मेगाहर्ट्ज

हल- वह रेडियो तरंगे, जो पृथ्वी के आयन मंडल द्वारा वापस पृथ्वी की ओर परावर्तित कर दी जाती हैं। व्योम तरंगे कहलाती हैं। इनकी आवृत्ति 3 से 30 मेगाहर्ट्ज के बीच होती है।

  1. h ऊंचाई वाले तथा एन्टीने की परास d में संबंध है –
    (a) d = \sqrt{Rh}
    (b) d = \sqrt{2Rh}
    (c) d = 2Rh
    (d) d = Rh

हल- यदि एन्टीने की ऊंचाई h तथा एन्टीने की परास d है तो
d = \sqrt{2Rh}
जहां R पृथ्वी की त्रिज्या है।

3.रेडियो तरंग के प्रसारण के लिए मॉडुलन है –
(a) आयाम मॉडुलन ✓
(b) संचरण मॉडुलन
(c) आवृत्ति मॉडुलन
(d) यह सभी

  1. 20 किलोहर्ट्स आवृत्ति की विद्युत चुंबकीय तरंग के लिए तरंगदैर्ध्य होगी –
    (a) 20 किलोमीटर
    (b) 10 किलोमीटर
    (c) 15 किलोमीटर ✓
    (d) 25 किलोमीटर

हल- दिया है –
तरंग की आवृत्ति = 20 किलोहर्ट्स ⇒ 20 × 103 हर्ट्स
विद्युत चुंबकीय तरंग की तरंगदैर्ध्य λ = \large \frac{C}{}
जहां C प्रकाश की चाल है। जिसका मान 3 × 108 मीटर/सेकंड होता है
तो तरंगदैर्ध्य λ = \large \frac{3×10^8}{20×10^3} ⇒ 15 × 103 मीटर
तरंगदैर्ध्य λ = 15 किलोमीटर Ans.

पढ़ें… 12वीं भौतिकी नोट्स | class 12 physics notes in hindi pdf

  1. आयाम मॉडुलेशन संचार व्यवस्था में बैंड चौड़ाई का सूत्र है –
    (a) fc + fm
    (b) 2fm
    (c) fc – fm
    (d) 2fc

हल- यदि मॉडलित तरंग की आवृत्ति = fm हो
तथा वाहक तरंग की आवृत्ति = fc हो तो
आयाम मॉडुलेशन तरंग की बैंड चौड़ाई = (fc + fm) – (fc – fm)
= fc + fm – fc + fm
= 2fm Ans.

इसे भी पढ़े. 12th physics chapter 1 objective questions in hindi वैद्युत आवेश तथा क्षेत्र

  1. एक टावर की ऊंचाई किसी स्थान पर 500 मीटर है। तो इसके प्रसारण की परास होगी। जबकि पृथ्वी की त्रिज्या 6400 किलोमीटर है –
    (a) 8 किलोमीटर
    (b) 16 किलोमीटर
    (c) 30 किलोमीटर
    (d) 80 किलोमीटर ✓

हल- दिया है –
एन्टिने (टॉवर) की ऊंचाई h = 500 मीटर
पृथ्वी की त्रिज्या R = 6400 किलोमीटर ⇒ 6400×103 मीटर
टावर की परास d = \sqrt{2Rh}
d = \sqrt{2×6400×10^3×500}
d = \sqrt{6400×10^6}
d = 80 × 103 मीटर
टावर की परास d = 80 किलोमीटर Ans.

  1. मॉडुलन गुणांक का सूत्र है –
    (a) ma = Em + Ec
    (b) ma = Em – Ec
    (c) ma = \large \frac{E_m}{E_c}
    (d) ma = \large \frac{E_c}{E_m}

हल- यदि मॉडुलन तरंग का आयाम = Em
तथा वाहक तरंग का आयाम = Ec हो तो
मॉडुलन गुणांक ma = \large \frac{E_m}{E_c}
या मॉडुलन गुणांक ma = \large \frac{E_{max}-E_{min}}{E_{max}+E_{min}}

  1. एक आयाम मॉडुलित वाहक तरंग का अधिकतम आयाम 6 वोल्ट तथा न्यूनतम आयाम 4 वोल्ट है। तो मॉडुलन गुणांक का मान होगा –
    (a) 0.2 ✓
    (b) 10
    (c) 20
    (d) 2

हल- दिया है –
तरंग का अधिकतम आयाम Emax = 6 वोल्ट
तरंग का न्यूनतम आयाम Emin = 6 वोल्ट
मॉडुलन गुणांक ma = \large \frac{E_{max}-E_{min}}{E_{max}+E_{min}}
मॉडुलन गुणांक ma = \large \frac{6-4}{6+4}
मॉडुलन गुणांक ma = \large \frac{2}{10}
मॉडुलन गुणांक ma = 0.2 Ans.

  1. किसी एन्टिना द्वारा विकिरित शाक्ति P, तरंगदैर्ध्य λ पर किस प्रकार निर्भर करती है –
    (a) P ∝ λ2
    (b) P ∝ λ
    (c) P ∝ \large \frac{1}{λ}
    (d) P ∝ \large \frac{1}{λ^2}

हल- विकिरण के सैद्धांतिक अध्ययन द्वारा हमें ज्ञात होता है। कि रेखीय एन्टिना द्वारा विकिरित शाक्ति P, तरंगदैर्ध्य λ पर निर्भर करती है। तरंगदैर्ध्य के वर्ग के व्युत्क्रमानुपाती होती है। अर्थात्
P ∝ \large \frac{1}{λ^2}

  1. आयाम मॉडुलित तरंग में मॉडुलित सूचकांक (मॉडुलित गुणांक) है
    (a) सदैव शून्य
    (b) 0 – 1 के बीच ✓
    (c) 1 – ∞ के बीच
    (d) सदैव ∞
शेयर करें…

अन्य महत्वपूर्ण नोट्स


Leave a Reply

Your email address will not be published.