हाइड्राइड किसे कहते हैं यह कितने प्रकार के होते हैं, आयनिक, अंतराकाशी, इलेक्ट्रॉन न्यून

हाइड्राइड

हाइड्रोजन धातु और अधातु के साथ अभिक्रिया करके जो द्विअंगी यौगिक बनाती है। उसे हाइड्राइट (hydride in Hindi) कहते हैं।
हाइड्राइड वह द्विअंगी यौगिक होते हैं जो हाइड्रोजन निश्चित परिस्थितियों में उत्कृष्ट गैसों के अतिरिक्त लगभग सभी तत्वों के साथ संयोग करके बनाती है।
जैसे –NaH, CaH2, AlH3, CH4, H2O आदि हाइड्राइट के उदाहरण हैं।

हाइड्राइड के प्रकार

आबंधन की प्रकृति के आधार पर हाइड्राइट तीन प्रकार के होते हैं।
1. आयनिक हाइड्राइड
2. सहसंयोजक हाइड्राइड
3. अंतराकाशी हाइड्राइड

1. आयनिक हाइड्राइड

प्रबल धन विद्युती तत्व जिनकी विद्युत ऋणात्मकता का मान बहुत कम होता है यह हाइड्रोजन के साथ संयुक्त होकर जो हाइड्राइट बनाते हैं। उन्हें आयनिक हाइड्राइड (ionic hydride in Hindi) कहते हैं। आवर्त सारणी के वर्ग 1 की क्षार धातुएं तथा वर्ग 2 की क्षारीय मृदा धातुएं, धन विद्युती तत्व है। क्षार धातु और क्षारीय मृदा धातुएं आयनिक हाइड्राइड बनाती हैं। इनकी प्रकृति लवणों जैसी होती है। जिस कारण इन्हें लवणीय हाइड्राइट (saline hydride in Hindi) भी कहते हैं। इनका सामान्य सूत्र MHn होता है। जहां n धातु की वर्ग की संख्या है।
लवणीय हाइड्राइट जल के साथ विस्फोटीय रूप से क्रिया के फलस्वरुप हाइड्रोजन बनाते हैं।
NaH + H2O \longrightarrow NaOH + H2

पढ़ें… अपचयोपचय अभिक्रियाएं नोट्स | Chemistry class 11 chapter 8 notes in Hindi

2. सहसंयोजक हाइड्राइड

आवर्त सारणी के वर्ग 14, 15, 16, 17 के तत्वों द्वारा बनाए गए हाइड्राइट को सहसंयोजक हाइड्राइड (covalent hydride in Hindi) कहते हैं। ऐसे हाइड्राइड B व Al जैसे तत्व भी बनाते हैं। p-ब्लॉक के तत्व हाइड्रोजन के साथ इलेक्ट्रॉन के साझे द्वारा सहसंयोजक बंध बना लेते हैं। इनका सामान्य सूत्र XH(8-n) होता है।
जहां X तत्व तथा n आवर्त सारणी के तत्वों की वर्ग की संख्या है।
कुछ इसके अलावा अब तक के अत्यधिक संख्या में हाइड्राइट इसी के अंतर्गत आते हैं। यह सामान्य ताप पर गैस होते हैं। इन्हें आणविक हाइड्राइट (molecular hydride in Hindi) भी कहा जाता है।

3. अंतराकाशी हाइड्राइड

संक्रमण धातुएं हाइड्रोजन को अपने जालक के अंतराकाश में अवशोषित करके धातु जैसे हाइड्राइड बनाती हैं। जिन्हें अंतराकाशी हाइड्राइट (interstitial hydride in Hindi) कहते हैं।
अंतराकाशी हाइड्राइड संक्रमण तत्वों द्वारा बनाए जाते हैं। जिनमें हाइड्रोजन संक्रमण तत्वों के जालक में व्यवस्थित रहता है। इन हाइड्राइडों को किसी एक निश्चित रसायनिक सूत्र द्वारा प्रदर्शित नहीं किया जा सकता है। यह अरससमीकरणमितीय होते हैं। इन हाइड्राइडों का संगठन ताप और दाब में परिवर्तन करके परिवर्तित किया जा सकता है।

न्यून इलेक्ट्रॉन हाइड्राइट

बोरॉन कई सहसंयोजक गैसीय हाइड्राइट बनाती है। जैसे – डाईबोरेन (B2H6), टेट्रबोरेन(B4H10) हैं।
बोरॉन के हाइड्राइट को न्यून इलेक्ट्रॉन हाइड्राइट कहते हैं।

आशा करते हैं कि हाइड्राइट किसे कहते हैं इसकी परिभाषा, प्रकार से संबंधित यह लेख आपको पसंद आया होगा। अगर आपको इस लेख में कोई कमी या गलती लगती है तो आप हमें कमेंट या ईमेल के माध्यम से जरूर बताएं, हम जल्दी आपकी समस्या का समाधान कर देंगे।


शेयर करें…

StudyNagar

हेलो छात्रों, मेरा नाम अमन है। Physics, Chemistry और Mathematics मेरे पसंदीदा विषयों में से एक हैं। मुझे पढ़ना और पढ़ाना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है। मैंने 2019 में इंटरमीडिएट की परीक्षा को उत्तीर्ण किया। और इसके बाद मैंने इंजीनियरिंग की शिक्षा को उत्तीर्ण किया। इसलिए ही मैं studynagar.com वेबसाइट के माध्यम से आप सभी छात्रों तक अपने विचारों को आसान भाषा में सरलता से उपलब्ध कराने के लिए तैयार हूं। धन्यवाद

View all posts by StudyNagar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *