हाइड्रोजन परॉक्साइड क्या है, बनाने की विधि, भौतिक व रासायनिक गुण, उपयोग, सूत्र

हाइड्रोजन परॉक्साइड

यह हाइड्रोजन का एक महत्वपूर्ण यौगिक है हाइड्रोजन परॉक्साइड का रासायनिक सूत्र H2O2 है। यह बहुत अल्प मात्रा में वायुमंडल और पौधों में पाई जाती है। यह पर्यावरण नियंत्रण तथा घरेलू व औद्योगिक वहिःस्राव के उपचार के रूप में काम आती है।

हाइड्रोजन परॉक्साइड बनाने की विधि

1. बेरियम परॉक्साइड पर H2SO4 की क्रिया द्वारा – ठंडे जल में बनी बेरियम परॉक्साइड को तनु H2SO4 से क्रिया कराने पर बेरियम सल्फेट तथा हाइड्रोजन परॉक्साइड बनती है।
BaO2 + H2SO4 \longrightarrow BaSO4 ↓ + H2O2

2. तनु H2SO4 की सोडियम परॉक्साइड से अभिक्रिया द्वारा –
Na2O2 + H2SO4 \longrightarrow Na2SO4 + H2O2

पढ़ें… मृदु एवं कठोर जल | जल की कठोरता के प्रकार, भौतिक व रासायनिक गुण, उपयोग

हाइड्रोजन परॉक्साइड के भौतिक गुण

  • शुद्ध अवस्था में हाइड्रोजन परॉक्साइड लगभग रंगहीन गाढ़ा द्रव है।
  • हाइड्रोजन परॉक्साइड जल, ऐल्कोहॉल तथा ईथर में विलेय है।
  • हाइड्रोजन परॉक्साइड का क्वथनांक 423.0K है।
  • हाइड्रोजन पेरोक्साइड त्वचा पर फफोले डालता है।
  • हाइड्रोजन परॉक्साइड का 298K पर वाष्पदाब 1.9 mmHg है।
  • हाइड्रोजन परॉक्साइड का 298K पर घनत्व 1.44 ग्राम/सेमी3 है।

हाइड्रोजन परॉक्साइड के रासायनिक गुण

1. ऑक्सीकारक गुण – हाइड्रोजन पेरोक्साइड अम्लीय और क्षारीय दोनों विलयन में ऑक्सीकारक है।
यह PbS को PbSO4 में ऑक्सीकृत कर देता है।
PbS + 4H2O2 \longrightarrow PbSO4 + 4H2O
• क्षारीय माध्यम में H2O2 ऑक्सीकारक के रूप में –
Mn2+ + H2O2 \longrightarrow Mn4+ + 2OH
• यह O3 को O2 में अपचयित देता है।
O3 + H2O2 \longrightarrow 2O2 + H2O

2. हाइड्रोजन परॉक्साइड नाइट्रोजन डाइऑक्साइड से किया करके नाइट्रिक अम्ल बनाता है।
2NO2 + H2O2 \longrightarrow \scriptsize \begin{array}{rcl} 2HNO_3 \\ नाइट्रिक\,अम्ल \end{array}

हाइड्रोजन परॉक्साइड के उपयोग

  1. हाइड्रोजन परॉक्साइड का उपयोग प्रयोगशाला में टाइटेनियम और क्रोमियम के परीक्षण में अभिकर्मक के रूप में किया जाता है।
  2. इसका उपयोग सोडियम परबोरेट तथा सोडियम परकार्बोनेट के निर्माण में होता है।
  3. इसका उपयोग हाइड्रोक्यूनीन, टार्टरिक अम्ल, खाद उत्पादों तथा और औषधियों के संश्लेषण में किया जाता है।
  4. मृदु ऑक्सीकारक गुणों के कारण इसका उपयोग रेशम, उन, पंख, बाल, हाथी दांत आदि कोमल वस्तुओं का विरंजन करने में होता है।

हाइड्रोजन परॉक्साइड का परीक्षण

  1. हाइड्रोजन परॉक्साइड फेरस सल्फेट की उपस्थिति में पोटैशियम आयोडाइड के विलयन से आयोडीन मुक्त करती है।
  2. टाइटेनियम सल्फेट के अम्लीय विलयन में हाइड्रोजन पराॅक्साइड मिलाने पर टाइटेनियम (IV) का परॉक्सो संकर बनने के कारण प्राप्त विलयन का रंग गहरा नारंगी-पीला होता है।

शेयर करें…

StudyNagar

हेलो छात्रों, मेरा नाम अमन है। Physics, Chemistry और Mathematics मेरे पसंदीदा विषयों में से एक हैं। मुझे पढ़ना और पढ़ाना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है। मैंने 2019 में इंटरमीडिएट की परीक्षा को उत्तीर्ण किया। और इसके बाद मैंने इंजीनियरिंग की शिक्षा को उत्तीर्ण किया। इसलिए ही मैं studynagar.com वेबसाइट के माध्यम से आप सभी छात्रों तक अपने विचारों को आसान भाषा में सरलता से उपलब्ध कराने के लिए तैयार हूं। धन्यवाद

View all posts by StudyNagar →

One thought on “हाइड्रोजन परॉक्साइड क्या है, बनाने की विधि, भौतिक व रासायनिक गुण, उपयोग, सूत्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *