एलुमिना क्या है, बनाने की विधि, गुण, उपयोग और सूत्र Al2O3

एलुमिना

प्रकृति में एलुमिना, एलुमिनियम के ऑक्साइड खनिजों कोरन्डम, डायस्पोरा और बॉक्साइट के रूप में पाया जाता है।
एलुमिना का रासायनिक नाम एलुमिनियम ऑक्साइड है तथा इस का रासायनिक सूत्र Al2O3 होता है। यह एक उभयधर्मी ऑक्साइड है अर्थात् यह अम्ल व क्षार दोनों के साथ क्रिया कर सकता है।

एलुमिना बनाने की विधि

1. पिसे हुए बॉक्साइट अयस्क को सोडियम हाइड्रोक्साइड के सांद्र विलयन के साथ घोल दिया जाता है। 150°C ताप पर सोडियम मेटाएलुमिनेट (NaAlO2) में बॉक्साइट को परिवर्तित किया जाता है।
Al2O3·2H2O + 2NaOH \xrightarrow {150°C} \scriptsize \begin{array}{rcl} 2NaAlO_2 \\ सोडियम\,मेटाएलुमिनेट \end{array} + 3H2O
सोडियम मेटाएलुमिनेट जल अपघटित होकर एलुमिनियम हाइड्रोक्साइड के रूप में अवक्षेपित हो जाता है।
NaAlO2 + 2H2O \longrightarrow \scriptsize \begin{array}{rcl} Al(OH)_3 \\ एलुमिनियम\,हाइड्रोक्साइड \end{array} + NaOH
लगभग 1500°C ताप पर एलुमिनियम हाइड्रोक्साइड को गर्म करने पर एलुमिना अपघटित हो जाता है।
2Al(OH)3 \xrightarrow {1500°C} \scriptsize \begin{array}{rcl} Al_2O_3 \\ एलुमिना \end{array} + 3H2O

पढ़ें… एलुमिनियम क्लोराइड क्या है, बनाने की विधि, गुण व उपयोग तथा सूत्र लिखिए
पढ़ें… एलुमिनियम क्या है, गुण और उपयोग, यौगिक तथा मिश्रधातु, अयस्क, सूत्र

एलुमिना के गुण

  • एलुमिना एक सफेद पाउडर होता है जो जल में विलेय होता है।
  • एलुमिना एक उभयधर्मी पदार्थ है अतः यह अम्ल और क्षार दोनों के साथ क्रिया कर सकता है।
  • एलुमिना स्थायी पदार्थ है। इसका अपचयन करना बहुत कठिन है।
  • एलुमिना को गलित क्रायोलाइट (AlF3·3NaF) में घोलकर विलयन का विद्युत अपघटन करके एलुमिनियम का निष्कर्षण किया जाता है।
  • एलुमिना (Al2O3) गर्म तनु हाइड्रोक्लोरिक अम्ल HCl के साथ अभिक्रिया करके एलुमिनियम क्लोराइड का घोल बनाता है।
    Al2O3 + 6HCl \longrightarrow \scriptsize \begin{array}{rcl} 2AlCl_3 \\ एलुमिनियम\,क्लोराइड \end{array} + 3H2O
  • क्योंकि एलुमिना उभयदर्मी पदार्थ है इसलिए यह सल्फ्यूरिक अम्ल H2SO4 के साथ क्रिया करके एलुमिनियम सल्फेट बनाता है।
    2Al(OH)3 + 3H2SO4 \longrightarrow \scriptsize \begin{array}{rcl} Al_2(SO_4)_3 \\ एलुमिनियम\,क्लोराइड \end{array} + 6H2O

एलुमिना के उपयोग

  1. एलुमिना का उपयोग एक घटक के रूप में कांच के निर्माण में होता है।
  2. एलुमिनियम के निष्कर्षण में।
  3. एलुमिनियम के अन्य लवणों के निर्माण में उत्प्रेरक के रूप में।
  4. कृत्रिम रत्न बनाने में।

शेयर करें…

StudyNagar

हेलो छात्रों, मेरा नाम अमन है। Physics, Chemistry और Mathematics मेरे पसंदीदा विषयों में से एक हैं। मुझे पढ़ना और पढ़ाना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है। मैंने 2019 में इंटरमीडिएट की परीक्षा को उत्तीर्ण किया। और इसके बाद मैंने इंजीनियरिंग की शिक्षा को उत्तीर्ण किया। इसलिए ही मैं studynagar.com वेबसाइट के माध्यम से आप सभी छात्रों तक अपने विचारों को आसान भाषा में सरलता से उपलब्ध कराने के लिए तैयार हूं। धन्यवाद

View all posts by StudyNagar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *