आयोडोफाॅर्म क्या है, बनाने की विधि, सूत्र, उपयोग, परीक्षण तथा रासायनिक अभिक्रिया लिखिए

आयोडोफाॅर्म

आयोडोफाॅर्म का रासायनिक नाम ट्राईआयोडोमेथेन होता है। यह मेथेन का ट्राई आयोडो उत्पन्न होता है। यह पीले रंग का क्रिस्टलीय ठोस पदार्थ है इसका प्रयोग औषधियों के निर्माण में किया जाता है।

आयोडोफाॅर्म बनाने की विधि

एथिल ऐल्कोहॉल को कॉस्टिक क्षार (NaOH) की उपस्थिति में आयोडीन के साथ गर्म करने पर पीले रंग का एक पदार्थ बनता है। जिसे आयोडोफाॅर्म (iodoform in Hindi) कहते हैं। तथा इस अभिक्रिया को आयोडोफाॅर्म अभिक्रिया कहते हैं।
CH3CH2OH + 4I2 + 6NaOH \longrightarrow \scriptsize \begin{array}{rcl} CHI_3 \\ आयोडोफाॅर्म \end{array} + 5NaI + HCOONa + 5H2O
ऐल्कोहॉल के अतिरिक्त एसीटोन, ऐसीटेल्डिहाइड, फेनिल ऐल्कोहॉल आदि यौगिकों द्वारा भी आयोडोफाॅर्म प्राप्त किया जाता है।

आयोडोफाॅर्म के भौतिक गुण

  • आयोडोफाॅर्म एक पीले रंग का क्रिस्टलीय ठोस पदार्थ है।
  • यह जल में अविलेय है परंतु एथिल ऐल्कोहाॅल तथा ईथर में विलेय है।
  • इसकी गंध विशिष्ट होती है।
  • इसका गलनांक 119°C (392K) होता है।

आयोडोफाॅर्म के रासायनिक गुण

1. आयोडोफाॅर्म को सिल्वर चूर्ण के साथ गर्म करने पर यह ऐसीटिलीन बनाता है। इस अभिक्रिया को विहैलोजनीकरण कहते हैं।
CHI3 + 6Ag + CHI3 \longrightarrow \scriptsize \begin{array}{rcl} C_2H_2 \\ ऐसीटिलीन \end{array} + 6AgI

2. आयोडोफाॅर्म को लाल फास्फोरस तथा हाइड्रोजन आयोडाइड के साथ अपचयन करने पर मेथिलीन आयोडाइड प्राप्त होता है।
CHI3 + 2H \xrightarrow {P_4 + HI} CH2I2 + HI

3. आयोडोफाॅर्म को ऐल्कोहाॅलिक सिल्वर नाइट्रेट के साथ गर्म करते हैं तो पीले रंग का सिल्वर आयोडाइड का अवक्षेप प्राप्त होता है।

आयोडोफाॅर्म के उपयोग

  1. आयोडोफाॅर्म का उपयोग पूर्तिरोधी (एंटिसेप्टिक) के रूप में किया जाता है।
  2. इसका उपयोग कुछ औषधियों के निर्माण में भी किया जाता है।
  3. चूंकि इसकी गंध तीक्ष्ण होती है। जिस कारण इसके स्थान पर आयोडीन युक्त अन्य औषधियों का प्रयोग किया जाता है।

आयोडोफाॅर्म एक पाॅलीहैलोजन यौगिक है।
अगर परीक्षा में पाॅलीहैलोजन यौगिक के अतंर्गत आयोडोफाॅर्म पर टिप्पणी लिखनी हो, तो आयोडोफाॅर्म के गुण व उपयोग ही करना इसकी बनाने की विधि नहीं करना, बस कुछ संक्षिप्त में अच्छे तरीके से कर देना।

पढ़ें… क्लोरोफॉर्म क्या है, उपयोग, सूत्र, भौतिक व रासायनिक गुण, बनाने की विधि
पढ़ें… कार्बन टेट्राक्लोराइड क्या है, उपयोग, फार्मूला, बनाने की विधि, भौतिक व रासायनिक गुण

आशा करते हैं कि आयोडोफाॅर्म से संबंधित यह अध्याय आपको पसंद आया होगा। अगर आपको यह पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।


शेयर करें…

One thought on “आयोडोफाॅर्म क्या है, बनाने की विधि, सूत्र, उपयोग, परीक्षण तथा रासायनिक अभिक्रिया लिखिए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *