कणिकीय प्रदूषक क्या है, स्रोत एवं हानिकारक प्रभाव लिखिए

कणिकीय प्रदूषक

वायु में निलंबित सूक्ष्म ठोस कण अथवा द्रवीय बूंदें कणिकीय प्रदूषक कहलाती हैं। कणिकीय प्रदूषक कणों का आकार 5nm से 500000nm तक हो सकता है। इन कणों की सांद्रता विभिन्न स्थानों पर भिन्न-भिन्न हो सकती है। स्वच्छ वायु में कणिकीय प्रदूषकै की संख्या 100 cm³ होती है। जबकि प्रदूषित वायु में इनकी संख्या 100000 cm³ हो सकती है।

कणिकीय प्रदूषक मोटर वाहनों के उत्सर्जन, आग के धुम्र, उद्योगों की राख व धूलकण होते हैं। वायुमंडल में कणिकाएं जीवित तथा अजीवित दोनों प्रकार की हो सकती हैं। जीवित कणिकाओं में कवक, फफूंद, शैवाल, जीवाणु आदि उपस्थित हो सकते हैं। यह कुछ जीवित कवक मनुष्यों में एलर्जी उत्पन्न कर सकते हैं।

पढ़ें... हरित रसायन क्या है, सिद्धांत, उपयोग एवं दैनिक जीवन में अनुप्रयोग
पढ़ें… अम्लीय वर्षा क्या है कारण और प्रभाव का वर्णन कीजिए, उपाय पर टिप्पणी, pH मान

कणिकीय प्रदूषक के स्रोत

  • मिट्टी एवं धूल का हवा द्वारा उड़ना कणिकीय प्रदूषक का एक प्राकृतिक स्रोत है।
  • ज्वालामुखी के फटने पर अत्यधिक कणिकीय प्रदूषक का उत्पन्न होना।
  • पैराफिन, ओलेफिन व एरोमैटिक यौगिक आदि कार्बनिक कणिकीय प्रदूषक हैं। यू स्थायी ईंधनों तथा स्वचालित वाहनों में जीवांश ईंधनों के दहन से उत्पन्न होते हैं।
  • धात्विक ऑक्साइड, धात्विक कण, सल्फ्यूरिक अम्ल की बूंदे, नाइट्रिक अम्ल की बूंदे तथा लैड हैलाइड आदि अकार्बनिक कणिकीय प्रदूषक है।

कणिकीय प्रदूषक के प्रभाव

  1. कणिकीय प्रदूषक धातुओं के संक्षारण में वृद्धि करते हैं।
  2. कणिकीय प्रदूषक मनुष्यों में फेफड़ों का कैंसर, ब्रोंकाइटिस, सिलिकोसिस तथा मस्तिष्क पर अनेक रोग उत्पन्न करता है।
  3. कणिकीय पदार्थ सूर्य की ऊष्मा को पृथ्वी तक पहुंचने नहीं देती है। यह सूर्य की ऊष्मा को अंतरिक्ष से वापस कर देते हैं।

शेयर करें…

StudyNagar

हेलो छात्रों, मेरा नाम अमन है। Physics, Chemistry और Mathematics मेरे पसंदीदा विषयों में से एक हैं। मुझे पढ़ना और पढ़ाना बहुत ज्यादा अच्छा लगता है। मैंने 2019 में इंटरमीडिएट की परीक्षा को उत्तीर्ण किया। और इसके बाद मैंने इंजीनियरिंग की शिक्षा को उत्तीर्ण किया। इसलिए ही मैं studynagar.com वेबसाइट के माध्यम से आप सभी छात्रों तक अपने विचारों को आसान भाषा में सरलता से उपलब्ध कराने के लिए तैयार हूं। धन्यवाद

View all posts by StudyNagar →

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *