विद्युत चुंबकीय तरंगे | Physics class 12 chapter 8 notes in hindi

विद्युत चुंबकीय तरंगे

जब किसी विद्युत परिपथ में विद्युत धारा बहुत अधिक आवृत्ति से परिवर्तित (बदलती) है। तब विद्युत परिपथ में उत्पन्न ऊर्जा, तरंगों के रूप में सभी दिशाओं में फैलने लगती है। इन तरंगों को विद्युत चुंबकीय तरंग कहते हैं electromagnetic waves in hindi, इन तरंगों के संचरण के लिए माध्यम के आवश्यकता नहीं होती है।

विद्युत चुंबकीय तरंगे निर्वात में \frac{1}{\sqrt{ µ_0 ε_0}} वेग से चलती हैं। जो कि निर्वात में प्रकाश की चाल C के मान के बराबर है जिसका मान 3 × 108 मीटर/सेकंड होता है।

महत्वपूर्ण बिंदु

  1. विद्युत चुंबकीय क्षेत्रों के आयामों का अनुपात C = \large \frac{E_0}{B_0} होता है। जहां E0 = विद्युत क्षेत्र में तरंग का आयाम B0 = चुंबकीय क्षेत्र में तरंग का आयाम
  2. गामा किरणें, एक्स किरणें तथा अवरक्त किरणें यह सभी विद्युत चुंबकीय तरंग के उदाहरण हैं। एवं बीटा किरणें इससे अलग है।
  3. बैगनी प्रकाश की आवृत्ति अधिक होती है। जबकि लाल प्रकाश की आवृत्ति न्यूनतम होती है।
  4. अवरक्त किरणों की आवृत्ति सबसे कम होती है। जबकि गामा किरणों की आवृत्ति सबसे अधिकतम होती है।

पढ़ें… 12वीं भौतिकी नोट्स | class 12 physics notes in hindi pdf

Physics class 12 chapter 8 notes in hindi

chapter 8 से संबंधित सभी बिंदु एवं Numerical को अलग-अलग पेजों के रूप में बनाया गया है। ताकि आप students को पढ़ने में बोरिंग भी ना लगे। और छोटे-छोटे अध्याय पढ़कर याद रखने में आसानी हो। chapter 8 के सभी टॉपिक जैसे विस्थापन धारा, मैक्सवेल समीकरण आदि नीचे सभी दिए गए हैं।

  1. मैक्सवेल के समीकरण के भौतिक महत्व | Maxwell equation in hindi class 12
  2. विद्युत चुंबकीय स्पेक्ट्रम क्या है | electromagnetic spectrum in hindi class 12
  3. एम्पीयर मैक्सवेल नियम | ampere maxwell law in hindi | संशोधित
  4. मैक्सवेल का विद्युत चुंबकीय तरंग का सिद्धांत
  5. विस्थापन धारा किसे कहते हैं | सूत्र, मात्रक | displacement current in hindi
शेयर करें…

अन्य महत्वपूर्ण नोट्स


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *