विलयन नोट्स | Chemistry class 12 Chapter 2 notes in Hindi

विलयन

दो या दो से अधिक पदार्थों के समांगी की मिश्रण को विलयन कहते हैं।
उदाहरण –
1. जल में चीनी डालकर पात्र को हिलाने पर चीनी, जल में घुल जाती है। तथा चीनी और जल एक पारदर्शक समांगी मिश्रण बन जाता है। अर्थात विलयन बन जाता है।
2. वायु भी कई प्रकार की गैसों का एक मिश्रण है अर्थात विलयन है।
विलयन के दो घटक होते हैं-
(1) विलेय
(2) विलायक

विलेय

विलयन का वह घटक जो विलीन होता है अर्थात् जो घुलता है। उसे विलेय (solute in Hindi) कहते हैं।
जैसे – जल में नमक घोलने पर नमक जल में विलीन हो जाता है अर्थात घुल जाता है तब नमक विलेय घटक मिला है।

विलायक

विलयन का वह घटक जिसमें विलेय घुलते हैं अर्थात् वह घटक जो अधिक मात्रा में होता है। उसे विलायक (solvent in Hindi) कहते हैं।
जैसे – जल में नमक घोलने पर नमक जल में विलीन हो जाता है अर्थात जल विलायक घटक है।

विलयन की सांद्रता को व्यक्त करने की विधियां


1. द्रव्यमान प्रतिशत

100 ग्राम विलयन में उपस्थित विलेय पदार्थ की ग्राम में मात्रा को विलयन की द्रव्यमान प्रतिशत कहते हैं। अर्थात्
द्रव्यमान प्रतिशत = \large \frac{विलेय\,का\,भार}{विलयन\,का\,भार} × 100

2. आयतन प्रतिशत

100 मिलीलीटर विलयन में उपस्थित विलेय पदार्थ की ग्राम में मात्रा को विलयन की आयतन प्रतिशत कहते हैं। अर्थात्
आयतन प्रतिशत = \large \frac{विलेय\,का\,आयतन}{विलयन\,का\,आयतन} × 100

3. पार्ट्स पर मिलियन (PPM)

विलयन के 1 मिलियन (10 लाख) ग्रामों में उपस्थित पदार्थ की ग्राम में मात्रा को उसकी पार्ट्स पर मिलियन (PPM) कहते हैं।
PPM में सांद्रता = \large \frac{विलेय\,का\,भार}{विलयन\,का\,भार} × 106

विलयन के प्रकार


प्रकारविलेयविलायकउदाहरण
ठोस विलयनठोसठोसतांबे तथा सीसे का विलयन
द्रवठोसपारे का सोडियम के साथ अमलगम
गैसठोसपैलेडियम में अधिशोषित हाइड्रोजन
द्रव विलयनठोसद्रवजल में घुला ग्लूकोस
द्रवद्रवजल में एल्कोहाॅल
गैसद्रववायु में घुली आक्सीजन
गैस विलयनठोसगैसआयोडीन का वायु में विलयन
द्रवगैसवायु में जलवाष्प
गैसगैसवायु

संतृप्त विलयन

किसी ताप पर जल की एक निश्चित मात्रा में थोड़ी चीनी डालकर उसे हिलाने पर चीनी जल में घुल जाती है। थोड़ी-थोड़ी मात्रा में चीनी को जल में डालकर विलयन को हिलाने पर चीनी का जल में विलेय होता रहता है। लेकिन अंत में एक ऐसी अवस्था आ जाती है जब चीनी का जल में घुलना रुक जाता है। एवं चीनी विलयन के पात्र के नीचे बैठ जाती है इस अवस्था में विलयन को संतृप्त विलयन कहते हैं। अथवा
“ वह अवस्था जिसमें निश्चित मात्रा के विलायक में और अधिक विलेय पदार्थ घोले जा सकें, तो उस अवस्था में बने विलयन को संतृप्त विलयन कहते हैं।
तथा वह विलयन जिसमें उसी ताप पर और अधिक विलेय घोले जा सकें। तो इस प्रकार के विलयन को असंतृप्त विलयन कहते हैं।

Chemistry class 12 Chapter 2 notes in Hindi

विलयन अध्याय में बहुत से महत्वपूर्ण बिंदु है जिन पर हमने अलग से स्पेशल लेख तैयार किए हैं। उन सभी टॉपिक के लिंक नीचे दिए गए हैं आपको जिस टॉपिक पर परेशानी हो, उस टॉपिक से संबंधित लेख को पढ़कर अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं। पढ़ें…


शेयर करें…

2 thoughts on “विलयन नोट्स | Chemistry class 12 Chapter 2 notes in Hindi

    1. देखो प्रिय छात्र अगर studynagar.com आपको एक बार में सभी नोट्स दे देगी, तो आप इन सभी नोट्स को नहीं पढ़ पाएंगे। क्योंकि एक बार में जब ज्यादा नोट्स मिल जाते हैं तो हम कंफ्यूज हो जाते हैं और पढ़ नहीं पाते। इसलिए आपको जिस किसी एक टॉपिक में परेशानी हो उस टॉपिक के बारे में आप हम से पूछ सकते हैं हम उस बारे में आपकी पूरी सहायता करेंगे। जैसे विलयन के सवाल, कॉलराउस का नियम, हेनरी का नियम आदि.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *